Homicide

UP: हमीरपुर में एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या

बेरहमी सी की गई इस हत्या की भनक तक आस-पास के लोगों को नहीं लगी. पुलिस घर के ही किसी नजदीकी पर हत्या का शक मानकर जांच कर रही है.

हमीरपुर   

उत्तर प्रदेश  के हमीरपुर में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हत्या कर दी गई. चौंकाने वाली बात ये है कि बेरहमी सी की गई इस हत्या की भनक तक आस-पास के लोगों को नहीं लगी.

हमीरपुर कोतवाली क्षेत्र में रानी लक्ष्मीबाई मोहल्ला में एक घर के भीतर पांच लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई. मृतकों में चार एक ही परिवार के थे, जबकि एक रिश्तेदार की बच्ची थी. बेरहमी सी की गई इस हत्या की भनक तक आस-पास के लोगों को नहीं लगी. पुलिस घर के ही किसी नजदीकी पर हत्या का शक मानकर जांच कर रही है.

सभी मृतक कलेक्ट्रेट की सेवा से रिटायर्ड चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नूरबख्श के घर हुई. मरने वालों में नूरबख्श की मां, बेटा, बहू, पोती और नवासी शामिल हैं. नूरबख्श थाना बिंवार के बिहुनी गांव में एक शादी समारोह में शामिल होने गए थे. गुरुवार रात घर लौटे तो अंदर का नजारा देख कर उनके होश उड़ गए. परिवार के पांच सदस्यों की लाशें अलग-अलग जगह पड़ी हुई थीं.

UP: हमीरपुर में एक ही परिवार के 5 सदस्यों की हत्या

मरने वालों में नूरबख्श की मां दादी सकीना (85), बेटे रईस (27), रईस की पत्नी रोशनी (25), बेटी आलिया (4) और बेटी गुड़िया की पुत्री रोशनी (15) शामिल हैं. पूरे हत्याकांड में चौंकाने वाली बात ये है कि सभी के शव घर अलग-अलग हिस्से में पड़े थे. घटनास्थल को देखकर ऐसा लग रहा था कि हत्‍याएं धारदार हथियार और पत्थर से कुचलकर की गई हैं. इतना ही नहीं सभी बचने का भी प्रयास कर रहे थे. लिहाजा, पुलिस को शक है कि हत्या में किसी नजदीकी का हाथ हो सकता है.

घर के एक कमरे में नूरबख्श की बहू रोशनी और उसकी बेटी का खून से लथपथ शव पड़ा था. घर के पीछे की ओर फर्श पर नूरबख्श के बेटे रईस, मां शकीना और नवासी रोशनी के शव पड़े थे. मौके पर जांच करने पहुंची एक्सपर्ट्स की टीम के मुताबिक हमलावर एक दो नहीं, बल्कि चार से पांच थे. उन्हें पता था कि घर में पांच ही सदस्य हैं. पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा के मुताबिक प्रथम दृष्टया हत्या के पीछे पारिवारिक विवाद महसूस हो रहा है. फिलहाल हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है.

उधर, हत्या की जानकारी के बाद पूरा मोहल्ला एकत्रित हो गया. लोगों में तरह-तरह की चर्चाएं हैं. कुछ लोग दबी जुबान में कहते पाए गए कि रिटायरमेंट के बाद मिले पैसे को लेकर हत्या हुई है. दरअसल, नूरबख्श ने दो शादियां की थीं. पहली पत्नी से एक बेटा है. नूरबख्श की पहली पत्नी, बेटा और बहू अलग रहते हैं. पुलिस दूसरी पत्नी, बेटे और बहू से भी पूछताछ कर रही है.

Source Link

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close