Juvenile offender

OMG- 9 वर्षीय लड़के पर 3 साल की बच्ची से दुष्कर्म का आरोप

दिल्ली से एक हैरान करने वाली खबर आई है. गुरुग्राम में रहने वाली एक तीन साल की बच्ची के साथ एक 9 र्वष के बच्चे द्वारा दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। 

 

नई दिल्ली

दिल्ली से सटे गुरुग्राम के सेक्टर-नौ ए थाना क्षेत्र में रहने वाली एक तीन साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। आरोप पड़ोस में ही रहने वाले नौ साल के बच्चे पर लगा है। सूचना मिलने पर पुलिस ने आरोपित बच्चे को पकड़ कर बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया है, जहां से उसे बाल संरक्षण गृह फरीदाबाद भेजा गया है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी बच्चे ने खेल-खेल में पीड़ित बच्ची के साथ दुष्कर्म किया है। लड़की के घरवालों की शिकायत पर बाल उत्पीड़न एक्ट की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

वहीं, पूर्व दिल्ली के आनंद विहार इलाके में दो ऐसे नाबालिग लड़कों को हिरासत में लिया है, जिन पर आरोप है कि उन्होंने अपने नाबालिग दोस्त की हत्या की है। पुलिस इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

यहां पर बता  दें कि लगातार बढ़ते हुए बाल अपराध हमारे सामाजिक जीवन के लिए एक चुनौती हैं। छोटे-छोटे बच्चों में अपराधी प्रवृत्तियाँ संसार के सभी देशों में एक गंभीर समस्या बन गई है।

भारतीय समाज में तो बाल अपराध की दर दिनोंदिन बढ़ती जा रही है, साथ ही इसकी प्रकृति भी जटिल होती जा रही है। इसके पीछे वर्तमान समय में नगरीकरण तथा औद्योगिकरण की प्रक्रिया ने एक ऐसे वातावरण का सृजन  हो गया है, जिससे बच्चे प्रभावित हो रहे हैं।

बता दें कि जब किसी बच्चे द्वारा कोई कानून-विरोधी या समाज विरोधी कार्य किया जाता है तो उसे किशोर अपराध या बाल अपराध कहते हैं। कानूनी दृष्टिकोण से बाल अपराध 8 वर्ष से अधिक तथा 16 वर्ष से कम आयु के बालक द्वारा किया गया कानूनी विरोधी कार्य है जिसे कानूनी कार्यवाही के लिये बाल न्यायालय के समक्ष उपस्थित किया जाता है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button